रोहित शर्मा का जीवन परिचय, कैसे एक गरीब परिवार से उठकर बने वह दुनिया के महान बल्लेबाज Biography of Rohit Sharma

अगर आप क्रिकेट प्रेमी है तो आपका भी मन कभी ना कभी भारतीय टीम के लिए क्रिकेट खेलने का किया होगा। मगर किन्ही कारणों से आप इसमें सफल नहीं हो सके। मगर मेरा सोचना है की आप अगर किसी भी फील्ड में सफलता पाना चाहते है तो आपकी मेहनत लगातार उसके लिए होनी चाहिए अगर आप किसी तरह से फ़ैल हो जाते है तो आपको निराशा नहीं होकर अपनी गलतियों को सुधारकर एक बार फिर से अच्छी मेहनत के तरह शुरू करनी चाहिए जैसा की हमारे सबके चाहते रोहित शर्मा (Rohit Sharma) ने किया। भारतीय टीम में इनकी शुरू में जगह पक्की नहीं हो सकी और ये टीम से अंदर-बाहर होते रहते थे। अगर इन सबके बाद इन्होने अपनी गलती सुधारी और एक बार फिर से वही से शुरुआत की जहाँ उनकी गलती थी। तो आइये जानते है उन्हें जुडी रोचक जानकारी और उनके जीवन परिचय के बारे में।

रोहित शर्मा का जन्म और परिवार (Birth and family of Rohit Sharma)

रोहित शर्मा का जीवन परिचय, कैसे एक गरीब परिवार से उठकर बने वह दुनिया के महान बल्लेबाज
रोहित शर्मा का जीवन परिचय, कैसे एक गरीब परिवार से उठकर बने वह दुनिया के महान बल्लेबाज

कैसे इस युवक ने अपनी MBA की पढाई को बीच में छोड़कर, चाय बनाकर बना करोड़पति, चलो जानते है इनके बारे में

रोहित शर्मा का जन्म आज ही के दिन यानी की 30 अप्रैल 1987 के दिन मुंबई के नागपुर में एक ब्राह्मण परिवार में हुआ था। इनका पूरा नाम रोहित गुरुनाथ शर्मा (Rohit Gurunath Sharma) है। वही रोहित के पिता का नाम गुरुनाथ शर्मा है जो की एक ट्रांसपोर्ट फर्म स्टोरहाऊस में Caretaker का काम करते थे। उनकी इतनी इनकम भी नहीं थी की वह रोहित की पढाई का खर्चा भी नहीं उठा सकते थे। वही उनकी माँ का नाम पूर्णिमा शर्मा है जो की विशाखापटनम से ताल्लुक रखती है यही वजह है की रोहित को तमिल भाषा भी आती है।

रोहित के पापा की अच्छी इनकम ना हो पाने की वजह से वो अपने Grandparents और Uncle के साथ बोरीवली में रहते थे। हर Weekend पर वे अपने पैरेंट्स से मिलने के लिए आया करते थे, जो की डोमविबली में एक सिंगल रूम घर में रहते थे। उनका एक छोटा भाई भी है। जिसका नाम विशाल शर्मा, जो मम्मी-पापा के साथ ही रहते थे।

वही साल 2015 में रोहित शर्मा ने अपने बचपन की दोस्त रितिका सजदे के साथ शादी के बंधन में बंध गए। वही उनकी इस समय एक बेटी भी है।

रोहित शर्मा की शुरूआती करियर (Rohit Sharma early career)

उनके शुरूआती करियर की बात करे तो वह बचपन से ही क्रिकेट की तरफ अपना रुख रख लिए थे। टीवी पर आने वाले किसी भी मैच को रोहित मिस नहीं करते थे और वे गली क्रिकेट में भी अच्छे खिलाडी थे। इस कारण वे अपने बिल्डिंग में सबसे जाने माने इंसान थे, क्योंकि उन्हें लोग मैच खेलने के लिए बुलाया करते थे। उन्हें इसलिए भी जानते थे, क्योंकि वे लोगों के घरों के विंडोज की काँच को अपने शॉट से तोड़ दिया करते थे। एक बार तो इस बात को लेकर पुलिस कमप्लेन भी हुआ था। बरहाल, क्रिकेट के आशिक, Rohit Sharma ने 1999 में अपने Uncle के पैसों से एक Cricket Camp को जॉइन कर लिया।

Read :  बीजेपी नेता और पूर्व बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह की जीवनी और उनसे जुड़े कुछ रोचक जानकारी जिन्हे शायद ही आप जानते होंगे Biography of Amit Shah

वहाँ के कोच दिनेश लाड़ ने उन्हें स्कूल चेंज कर Swami Vivekanand International School में जाने को कहा, जहां वे खुद कोच थे और बेहतर क्रिकेट फेसिलिटीज़ भी वहां मौजूद थी। उनके टैलेंट की पहचान उनके स्कूल के क्रिकेट कोच दिनेश लाड ने एक समर कैम्प के दौरान की थी। स्कूल क्रिकेट टूर्नामेंट के दौरान बेहतरीन प्रदर्शन करने के बाद ही उन्हें मुंबई की अंडर 20 टीम में खेलने का मौका मिला था।

काफी कम लोगों को यह पता होगा कि रोहित शर्मा शुरुआत में एक स्पिनर बॉलर थे। लेकिन रोहित शर्मा की बल्लेबाजी को देखकर उनके कोच ने रोहित को बल्लेबाजी पर ज्यादा ध्यान देने के लिए कहा। कोच के कहने पर रोहित ने अपना पूरा ध्यान बल्लेबाजी पर देना शुरू कर दिया और कुछ समय के बाद वो एक अच्छे बल्लेबाज बन गए।

रोहित शर्मा शुरुआत में नंबर आठ पर बैटिंग करने आते थे लेकिन एक मैच में रोहित को उनके कोच ने ओपनिंग में भेजा और उस मैच में रोहित ने शानदार शतक लगाया और इस मैच के बाद रोहित शर्मा को ओपनर बल्लेबाज के रूप में भेजा जाने लगा।

रोहित शर्मा का घरेलू करियर (Rohit Sharma Domestic Career)

रोहित शर्मा का जीवन परिचय, कैसे एक गरीब परिवार से उठकर बने वह दुनिया के महान बल्लेबाज
रोहित शर्मा का जीवन परिचय, कैसे एक गरीब परिवार से उठकर बने वह दुनिया के महान बल्लेबाज

कैसे एक बस ड्राइवर का बेटा अपनी मेहनत से कर रहा बॉलीवुड में राज आइए जानते है Biography Of Yash

रोहित शर्मा ने साल 2005 में देवघर ट्रॉफी में वेस्ट जोन की तरफ से खेलते हुए अपने क्रिकेट कैरियर की शुरुआत की थी। इस मैच में रोहित शर्मा ने नाबाद 143 रनों की शानदार पारी खेली थी।

इसके बाद रोहित शर्मा को वर्ष 2006 में भारत ए टीम की तरफ से डेब्यू करने का मौका मिला और न्यूजीलैंड ए के साथ हुए इस मैच में रोहित शर्मा ने बेहतरीन प्रदर्शन करते हुए 22 गेंदों में 57 रनों की शानदार पारी खेली और टीम को जीत दिलाने में महत्वपूर्ण रोल निभाया।

इसके बाद इसी साल रोहित शर्मा ने मुंबई की तरफ से खेलते हुए रणजी ट्रॉफी में भी अपना डेब्यू किया और अपने बेहतरीन और शानदार प्रदर्शन से मुंबई टीम को उस सीजन का विजेता बनाने में अपना बहुमूल्य योगदान दिया था।

रोहित शर्मा का इंटरनेशनल करियर (Rohit Sharma International Career)

रोहित शर्मा का जीवन परिचय, कैसे एक गरीब परिवार से उठकर बने वह दुनिया के महान बल्लेबाज
रोहित शर्मा का जीवन परिचय, कैसे एक गरीब परिवार से उठकर बने वह दुनिया के महान बल्लेबाज
  • रोहित शर्मा ने 23 जून 2007 के दिन एकदिवसीय इंटरनेशनल क्रिकेट में आयरलैंड के खिलाफ डेब्यू किये। इसी साल फिर रोहित शर्मा को टी-20 वर्ल्ड कप के लिये इंडिया टीम में शामिल किया गया। जहां इन्होंने साउथ अफ्रीका के खिलाफ 50 रनों की शानदार नाबाद पारी खेली थी। जिसकी बदौलत भारत ने यह मैच जीतकर सेमीफाइनल में अपनी जगह बनाई।
  • इसके बाद फिर रोहित शर्मा को एक बार फिर दिवसीय क्रिकेट खेलने का मौका दिया गया लेकिन वह कई मैचों में अपनी काबिलियत के हिसाब से कुछ खास नही प्रदर्शन नहीं कर पाए और उनको टीम से बाहर निकाल दिया गया और उनकी जगह दूसरे खिलाड़ियों को टीम में खेलने का मौका दिया गया।
  • जब रोहित शर्मा टीम से बाहर निकाल दिया गया था तब वो पूरी तरह टूट गए थे मगर उन्होंने यहाँ अपनी हार नहीं मानी और एक बार फिर रोहित ने रणजी मैचों में खेलना शुरू कर दिया और फिर साल 2009 में एक मैच में गुजरात के खिलाफ नाबाद 309 रन बनाकर अपनी काबिलियत सबको दिखा दिए थे।
  • इसके बाद एक बार फिर रोहित शर्मा को वर्ष 2010 में अंतरराष्ट्रीय टीम में खेलने का मौका दिया गया और इसी वर्ष जिम्बाब्वे के खिलाफ एक मैच में रोहित शर्मा ने 114 रन की शानदार शतकीय पारी खेली थी।
  • इसके बाद रोहित शर्मा को अगले ही मैच में श्रीलंका के खिलाफ मौका मिला जिसमे उन्होंने एक और शतक लगाकर अपनी काबिलियत को साबित कर दिया।
  • लेकिन वर्ष 2011 में रोहित शर्मा साउथ अफ्रीका के खिलाफ एक सीरीज में वो पूरी तरह फ्लॉप रहे जिसके कारण उनको वर्ष 2011 में हुए विश्वकप में खेलने का मौका नही दिया गया था और कहा जाता है की उनकी जगह टीम में युसुफ पठान को खेलने का मौका दिया गया था।
  • इसके बाद रोहित शर्मा ने साल 2013 में वेस्टइंडीज के खिलाफ टेस्ट मैच में डेब्यू किये और अपने पहले ही टेस्ट मैच में रोहित शर्मा ने शानदार शतक लगाए थे।
  • रोहित शर्मा ने अपने टेस्ट मैचों में अब तक 6 शतक और 10 अर्द्धशतक बनाए है। वहीं वन डे मैचों में 29 शतक और 43 अर्द्धशतक बनाए है। वही टी-20 की बात करे तो उन्हेंने 4 शतक और 20 अर्धशतक लगाए है।
  • रोहित शर्मा को साल 2015 में उनके क्रिकेट में बहुमूल्य योगदान के लिए भारत सरकार ने उन्हें अर्जुन पुरस्कार से सम्मानित किया था। वहीं वर्ष 2019 में अपने एकदिवसीय मैचों में शानदार प्रदर्शन करने के लिए ICC द्वारा ODI-प्लयेर ऑफ द ईयर भी चुने गए थे।
  • रोहित शर्मा आज जिस मुकाम पर है उसमें वो महेंद्र सिंह धोनी का बहुत बड़ा हाथ मानते है। रोहित शर्मा इस बारे में बताते है की धोनी भाई ने मेरा हर स्थिति में मेरा साथ दिया है।
  • आगे वो बताते है कि अगर धोनी भाई ने मुझे ज्यादा मौके नही दिए होते तो शायद में आज इंडिया के लिए इस मुकाम पर नही पहुंच पाता।
  • इसमें तो कोई शक नही है कि रोहित शर्मा सबसे खतरनाक विस्फोटक बल्लेबाजों में से एक है और अपनी तूफानी बल्लेबाजी की वजह से उनका निक नाम भी हिटमेन पड़ गया है।
  • रोहित शर्मा आज जिस मुकाम पर है उस पर पहुंचने के लिए उन्होंने बहुत कड़ी मेहनत की थी और कई तरह की मुश्किलों से भी गुजरे थे। और कई बार वो फेल भी हुए थे लेकिन उन्होंने कभी भी हिम्मत नही हारी और लगातार प्रयास करते रहे जिसका नतीजा आज हमारे सामने है।
Read :  विक्की कौशल का जीवन परिचय और उनसे जुड़े कुछ अनसुनी बातें, आइए जानते है Biography Of Vicky Kaushal

रोहित शर्मा का आईपीएल करियर (Rohit Sharma IPL career)

रोहित शर्मा का जीवन परिचय, कैसे एक गरीब परिवार से उठकर बने वह दुनिया के महान बल्लेबाज
रोहित शर्मा का जीवन परिचय, कैसे एक गरीब परिवार से उठकर बने वह दुनिया के महान बल्लेबाज

रोहित शर्मा इंडियन प्रीमियर लीग में सफल खिलाड़ियों में से एक है और ये अन्तिम गेंद पर छक्के से जीताने में काफी क्षमता रखते है। अब तक इनके नाम आईपीएल में एक शतक और एक तिकड़ी भी है। रोहित शर्मा ने पहली बार 2008 आईपीएल में 6,50,000 यूएस डॉलर के लिए डेक्कन चार्जर्स के लिएखेले थे। ये 2007 इंडियन प्रीमियर लीग में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले खिलाड़ियों में से एक थे जिन्होंने 34.62 की औसत से कुल 604 रन बनाए थे। इस कारण इनको 2008 आईपीएल में कुछ मैचों में ऑरेन्ज कैप पहनने का मौका भी मिला था।

रोहित शर्मा जब 2011 इंडियन प्रीमियर लीग में रिकी पोंटिंग ने आईपीएल से संन्यास लिया था तब से मुम्बई इंडियन्स टीम के कप्तान है और आईपीएल के शीर्ष तीन कप्तानों में गिने जाते है। रोहित 2008 से 2010 तक डेक्कन चार्जर्स के लिए खेले थे जबकि 2011 से अब तक मुम्बई इंडियन्स के लिए खेल रहे है जिसमें उनकी कप्तानी में मुंबई ने अब तक 5 बार टीम को विजेता भी बनाया है। इनके अलावा रोहित की कप्तानी में मुम्बई दो बार चैंपियंस लीग टी-20 भी जीतने में कामयाब रहा है।

रोहित शर्मा के कुछ बड़े रिकॉर्ड जिन्हे तोड़ पाना ना मुमकिन हैं (Some big records of Rohit Sharma which are not possible to be broken)

रोहित शर्मा का जीवन परिचय, कैसे एक गरीब परिवार से उठकर बने वह दुनिया के महान बल्लेबाज
रोहित शर्मा का जीवन परिचय, कैसे एक गरीब परिवार से उठकर बने वह दुनिया के महान बल्लेबाज

अगर देखे तो रोहित शर्मा का जन्म ही रिकॉर्ड तोड़ने के लिए हुआ है। उन्होंने अपनी काबिलियत से कई ऐसे रिकॉर्ड तोड़े है जिनके आस-पास भी किसी खिलाड़ी का आना एक सपने जैसा है। तो आइये जानते है उनके ख़ास रिकॉर्ड।

  • रोहित शर्मा विश्व के एकमात्र ऐसे क्रिकेट खिलाड़ी है जिन्होंने वन डे मैच में तीन बार दोहरे शतक लगाए है।
  • रोहित शर्मा के नाम सर्वाधिक 264 रन बनाने का विश्व रिकॉर्ड है जो कि उन्होंने श्रीलंका के खिलाफ वर्ष 2014 में बनाए थे।
  • रोहित शर्मा ने वन डे मैच में एक पारी में सबसे अधिक 16 छक्के लगाने का भी रिकॉर्ड है जो कि रोहित शर्मा ने वर्ष 2013 में आस्ट्रेलिया के खिलाफ लगाए थे।
  • एक दिवसीय मैच में एक पारी में सबसे अधिक 33 चौके लगाने का विश्व रिकॉर्ड भी रोहित शर्मा के नाम है। जो की रोहित शर्मा ने श्रीलंका के खिलाफ वर्ष 2014 में 264 रनों की पारी के दौरान बनाया था।
  • वन डे मैचों में 29 शतक लगाकर रोहित शर्मा, सचिन तेंदुलकर और विराट कोहली के बाद तीसरे नंबर पर आते है।
  • रोहित शर्मा ने अंतरराष्ट्रीय टी 20 मैचों में सबसे ज्यादा 4 शतक लगाये है जो कि एक विश्व रिकॉर्ड है।
  • रोहित शर्मा के पास टी 20 अंतरराष्ट्रीय मैच में 35 गेंदों में सबसे तेज शतक बनाने का का रिकॉर्ड भी है जो डेविड मिलर के रिकॉर्ड के बराबर है।
  • रोहित शर्मा एक विश्वकप में पांच शतक लगाने वाले दुनिया के एकमात्र बल्लेबाज है।
  • रोहित शर्मा वन डे मैचों में सबसे अधिक छक्के 244 लगाने वाले एकमात्र भारतीय बल्लेबाज की सूचि में सबसे ऊपर है।
  • रोहित शर्मा ने अब तक वन डे मैचों में आठ बार 150 या इससे ज्यादा से रन बनाए है।
Like Reaction
Like Reaction
Like Reaction
Like Reaction
Like Reaction

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here