रोहित सरदाना की जीवनी Biography of rohit sardana

Biography of Rohit Sardana : कहते है ना दोस्तों इस दुनिया में जो आया है वो एक न एक दिन जरूर जायगा बस फर्क इतना है की कोई अपनी छाप छोड़कर चला जाता है तो कोई कुछ नहीं। दोस्तों आप लोगों को ये जानकर बड़ा दुःख होगा की आज हमारे बीच एक प्रसिद्ध भारतीय पत्रकार, एंकर, स्तंभकार, संपादक रोहित सरदाना नहीं रहे। आज दोपहर कोरोना वायरस (Covid-19) की वजह से उनकी मृत्यु हो गई है। न्यूज़ की दुनिया में रोहित का जाना माना नाम है। पत्रकारिता की दुनिया में काम करने वाले रोहित सरदाना को लोग अपना आदर्श मानते है और उनके जैसे बनने की इच्छा रखते है।

रोहित सरदाना का जन्म और परिवार (Birth and family of Rohit Sardana)

रोहित सरदाना की जीवनी Biography of rohit sardana
रोहित सरदाना की जीवनी Biography of rohit sardana

News Reporter Kaise Bane और इसका कोर्स, योग्यता, अवधि के बारें में

रोहित सरदाना का जन्म 22 सितंबर 1979 के दिन हरियाणा के कुरुक्षेत्र में हुआ था। रोहित शादीशुदा है और इनका एक बेटा भी है।

रोहित सरदाना की पढाई (Study of Rohit Sardana)

रोहित ने हरियाणा के कुरुक्षेत्र से ही अपनी स्कूल की पढ़ाई पूरी की। स्कूली शिक्षा पूरी करने के बाद वह आगे की पढ़ाई के लिए हिसार चले गए और यहाँ पर उन्होंने गुरु जम्बेश्वर विश्वविद्यालय विज्ञान और प्रौद्योगिकी में दाखिला लिया। उन्होंने वहां से मनोविज्ञान में स्नातक(BA) की डिग्री हासिल की है, और उसी यूनिवर्सिटी से मास कम्युनिकेशन में मास्टर्स (MA) की डिग्री हासिल की है। आख़िरकार, जब रोहित स्नातक की पढ़ाई पूरी करने के बाद हिसार में परास्नातक के लिए गए, तो वहां कक्षा में सभी से यह पूछा गया कि पत्रकारिता करने के बाद आप क्या करोगे ? तब कक्षा में सभी छात्रों ने कहा कि ” वे समाज में परिवर्तन लाना चाहते हैं। जबकि रोहित सरदाना ही एकमात्र छात्र थे जिन्होंने कहा “में सिर्फ टीवी स्क्रीन पर ही रहना चाहता हूँ।

Read :  बीसीए एमसीए क्या है | BCA MCA course details in hindi

रोहित सरदाना का न्यूज एंकर का सफर (Rohit Sardana  journey to news anchor)

रोहित सरदाना की जीवनी Biography of rohit sardana
रोहित सरदाना की जीवनी Biography of rohit sardana

जैसा की मैंने आपको बताया की रोहित का एकमात्र सपना था टीवी जगत में आने का। रोहित चाहते थे की वो एक बार टीवी पर आ जाए इसके लिए उन्होंने पत्रिकता की तरफ अपना कदम बढ़ा लिए। शुरू में रोहित ने अपने कुछ इंटरव्यू दिए जिनमे से वह रेडियो स्टेशन पर उनकी नौकरी लग गई मगर रोहित यहाँ खुश कहा होने वाले थे। उनके ऊपर तो टीवी पर आने का बहुत जो सवार था इसके बाद रोहित दिल्ली आ गए। यहाँ पर रोहित सरदाना को ई-टीवी नेटवर्क के साथ इंटरशिप में काम करने का मौका मिला। इसके बाद रोहित एक पत्रकार के रूप में काम करने लग गए। कुछ समय बाद उनका ट्रांसफर हैदराबाद हो गया और वही पर उन्होंने न्यूज़ एंकर के लिए कई ऑडिशन दिए परन्तु वह किसी में भी सफल नहीं हो सके।

आईपीएस ऑफिसर कैसे बने इसके लिए क्या योग्यता होनी चाहिए आइए जानते है

असफल होने के बाद रोहित ने यही अपनी हार नहीं मानी और फिर उसके 5 महीने बाद उन्होंने VT एडिटर की ट्रेनिंग ली और उसके बाद उन्होंने गुजरात में हुए चुनाव को लेकर उनके द्वारा किये गए काम नहीं सभी को चौंका दिया उसके बाद उन्हें न्यूज़ एंकर की जॉब मिल गई। इस तरह से शुरू होता है रोहित सरदाना का टीवी एंकर के रूप में सफर।

इसके बाद उन्होंने अपनी योग्यता और टैलेंट के दम पर सभी का दिल जीत लिए। उनका जी न्यूज़ पर प्रकाशित शो ताल-ठोक बेहद प्रसिद्ध था जिसमे वह समकालीन और सामजिक मुद्दों पर चर्चा किया करते थे। वही 2017 में उन्होंने इसको छोड़ दिए और आज तक चैनल को इन्होने ज्वाइन कर लिया। जिसमे वह दंगल शो की मेजबानी करते है।

Read :  12th ke Baad Kya kare? (Career Opportunities After 12th in Hindi)

रोहित सरदाना की मौत का कारण (The reason for Rohit Sardana’s death)

रोहित सरदाना अपनी मौत से पहले आज तक न्यूज़ चैनल के लिए काम कर रहे थे। कुछ दिनों से वे अस्पताल में कोरोना संक्रमित होने के कारण भर्ती थे। इसी दौरान हृदयगति रुकने के कारण उनकी मृत्यु हो गयी। 30 अप्रेल 2021 को सुबह जब उन्हें अटैक आया उसके बाद डॉक्टर उन्हें वेंटीलेटर पर भी ले गए, लेकिन डॉक्टर उन्हें नहीं बचा सके।

Like Reaction
Like Reaction
Like Reaction
Like Reaction
Like Reaction

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here