India का सबसे होनहार Present Prime Minister श्री नरेन्द्र दामोदर दास मोदी ने 26 May 2014 को Prime Minister का शपथ ग्रहण किये थे. इनकी बचपन बहुत गरीबी के रूप में गुजरी है. कभी ये Railway Station पर चाय बेचने का काम करते तो कभी ये Morning Time में सड़को पर NewsPaper Sale करने का काम करते. इनके साथ ऐसा भी गरीबी के कारण ऐसा समय आया है कि कभी-कभी तो इनको खाना भी नसीब नहीं हो पाता था?


इन्होने अपने गरीबी के कारण अपना आगे बढ़ने का हौशला नहीं छोड़े. दिन-रात मेहनत करते रहें और वो आज इस मुकाम पर आ पहुँचे है. PM Narendra Modi की इमानदारी, सहनशीलता, छवि, कर्मठ और देश में एक नई प्रगति के कारण यह Present में पुरे World में अपना परचम लहराये है और भारत का नाम रौशन किये है.


PM Narendra Modi ने अपने Prime Minister के पद पर रहने के पश्चात् उन्होंने बहुत सारे देशों का भ्रमण किये है और उस Country में Use होने वाली तकनीक को भारत में लाने का प्रयास किये है तथा India को एक नई पहचान दिलाने में अपना महत्वपूर्ण योगदान दिये है. Present में India इतना अधिक विकसित कर रहा है कि सारा देश इस India के इस Progress से आश्चर्यजनक है? ये सभी Present PM Narendra Modi के कारण संभव हो पाया है.


इस Article में हम आपको ISH (Indian Student Help) Site पर India के यशस्वी प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के 51 प्रेरक कथनों को आप सभी के साथ Share करने जा रहा हूँ. यह सभी प्रेरक कथनों को हमने PM Narendra Modi के Social Account से एकजुट किया है.


Top 50+ Best Priceless Thoughts Of PM Narendra Modi? In Hindi


1. “चार साल पहले पूरी दुनिया में जब भारत की चर्चा होती थी, तो कहा जाता था, Fragile Five …  आज भारत के Fragile Five की नहीं, भारत के Five Trillion Dollar Economy के लक्ष्य की चर्चा होती है.  अब पूरी दुनिया भारत के साथ कंधे से कंधा मिलाकर चलना चाहती है

2. “मैं सभी माता-पिता से अनुरोध करता हूँ कि वे अपने बच्चों के उपलब्धियों को Social Status नहीं बनायें, दुसरे बच्चों से अपने बच्चों का तुलना नहीं करें, आपके बच्चें के अन्दर जो सामर्थ है उसे पहचानिये, अंक और परीक्षा जीवन का आधार नहीं है.”

3. “खेल के लिए जो समर्पित लोग होते हैं वो पैसे और प्रसिद्धि के लिए नहीं खेलते उनके अन्दर एक जज़्बा होता है  जब अंतराष्ट्रीय खेल होते हैं और भारत का खिलाडी खेलता है तो वह जूझता है, पूरी तरह जी-जान से लगता है,  लेकिन जैसे ही वह विजयी होता है उसकी पूरी शारीरिक भाषा बदल जाती है, सारी थकान दूर हो जाती है जब वह खिलाड़ी हाथ में तिरंगा लेकर दौड़ता हैयह सारे हिन्दुस्तान में ऊर्जा और चेतना भर देता है



4. “अगर व्यक्ति कुछ करने की ठान ले तो नामुमकिन कुछ भी नहीं है। जन-आन्दोलन के माध्यम से बड़े से बड़े बदलाव लाये जा सकते हैं

5. “समाज के सभी लोगों को सही मायने में विकास का लाभ मिल सके इसके लिए जरूरी है कि हमारा समाज कुरीतियों से मुक्त हो, आइये हम सब मिलकर कुरीतियों को समाज से ख़त्म करने की प्रतिज्ञा लें और एक New India, एक सशक्त एवं समर्थ भारत का निर्माण करें

6. “जैसा पहले था, वैसा ही चलता रहेगा, कुछ बदलेगा नहीं..कुछ होने वाला नहीं हैइस सोच से भारत अब बहुत आगे बढ़ चुका है. भारत के लोगों की आशाएं-आकांक्षाएं इस समय उच्चतम स्तर पर हैं.  व्यवस्थाओं में हो रहे सम्पूर्ण परिवर्तन का, एक  Irreversible Change का परिणाम आपको हर एक सेक्टर में नजर आएगा



7. “एक बार भारत के लोग कुछ करने की ठान लें तो कुछ भी असम्भव नहीं है

8. “जैसे सरदार पटेल में देश का एकीकरण किया था वैसे ही देश को एकता के सूत्र में पिरोने वाला काम GST के माध्यम से हुआ है. दशकों बाद One Nation- One Tax का सपना साकार हुआ है

9. “हमारा प्रयास है कि देश का हर व्यक्ति सशक्त हो। एक समावेशी समाज का निर्माण हो.समऔरममके भाव से समाज में समरसता बढ़े और सब एकसाथ मिलकर आगे बढ़ें



10. “मैं वर्तमान की चिंता में देश के भविष्य को दाँव पर नहीं लगा सकता. हमारा उद्देश्य हैदेश के गरीबों के जीवन में बदलाव आए और हम इसके लिए प्रतिबद्ध हैं.”

11. “तब भारत छोड़ो का नारा था, आज भारत जोड़ों का नारा है”

12. “जब मैं एक विकसित भारत के बारे में सोचता हूँ, मैं एक स्वस्थ भारत, विशेष रूप से देश की महिलाओं और बच्चों के अच्छे स्वास्थ्य के बारे में सोचता हूँ



13. “भारत में हम एक ऐसा इको-सिस्टम तैयार कर रहें है, जहाँ भारत के नौजवान रोजगार तलाशने वाले (Job Sikar ) नहीं, जबकि रोजगार बनाने वाले (Job Creator) बनें”

14. “मुझे इस बात की चिंता सता रही है कि टेक्नोलॉजी दुरिया कम करने को आयी, लेकिन उसका दुष्परिणाम ये हुआ कि एक ही घर में छ: लोग एक ही कमरे में बैठे है, लेकिन दुरिया इतनी है कि कल्पना नहीं कर सकते?”

15. “जिन लोगों ने गरीबों को लुटा है, उन्हें गरीबों का हक़ वापस लौटाना होगा. देश मेंईमानदारीके युग की शुरुआत हो चुकी है

16. “हम परीक्षा का जीवन-मरण का सवाल बना लेते है, जबकि परीक्षा केवल आपकी साल भर की पढाई है. ये आपके जीवन का कसौटी नहीं है”

17. “आज हमारा उद्देश्य एक कुशल भारत बनाना है भारत के युवा विश्वभर के युवाओं के साथ मुकाबला करने में सक्षम होने चाहिए



18. “यदि भ्रष्टाचार और कालेधन की बुराई को पहले ही समाप्त कर दिया गया होता तो मुझे वो फैसला नहीं लेना पड़ता जो मैंने 8 नवम्बर 2016 को लिया

19. “आज Computer के युग में Playing Field, Play Station से ज्यादा महत्वपूर्ण है. Computer पर FIFA खेलिए लेकिन बाहर मैदान में तो कभी फुटबॉल के साथ करतब करके दिखाइए. आप Computer पर Cricket खेलते होंगे लेकिन खुले मैदान में आसमान के नीचे क्रिकेट खेलने का आनन्द ही कुछ और होता है



20. “हर नागरिक को यह महसूस होना चाहिए कि ये देश हमारा है. मुझे देश के लिए काम करना है और देश की विकस यात्रा में मुझे भी योगदान देना है.”

21. “हर व्यक्ति भारत की आज़ादी चाहता था लेकिन गाँधीजी ने कुछ हटकर कियाउन्होंने हर व्यक्ति को यह महसूस कराया कि वह देश के लिए काम कर रहा है

22. “आप कितने भी बड़े क्यों हों, गरीब के हक़ का आपको लौटाना होगा. मैं गरीबों के लिए शुरू की गयी लड़ाई से पीछे हटने वाला नहीं हूँ, मैं फिर वादा करता हूँ



23. “Marks और Marksheet का एक सिमित उपयोग है. जीवन में आपके Knowledge काम आने वाला है. Skill काम आने वाली है, आत्मविश्वास काम आने वाला है. संकल्पशक्ति काम आने वाली है.”

24. “युवाओं को अवसर मिले, युवाओं को रोज़गार मिले, ये हमारे लिए समय की मांग है, काम का दायरा जितना बढ़ेगा रोजगार की संभावना उतनी बढ़ेंगी. हम इसी दिशा में आगे बढ़ रहे हैं

25. “अगर किसी ने मुझसे अधिक साफ़-सफाई को आगे बढ़ाया है, तो वह है मीडिया। मीडिया ने इसे बहुत ही सकारात्मक तरह से किया है

26. “हमारे गांव, हमारे किसान, छोटे व्यापारीये सब हमारे देश की बढती अर्थव्यवस्था के मजबूत स्तम्भ हैं. मैं उन्हें करेंसी में हुए नए परिवर्तन के फलस्वरूप हुई कठिनाइयों के साथ सामंजस्य बिठाने के लिए बधाई देता हूँ



27. “आइये हम टेक्नोलॉजी का उपयोग कर कैशलेस समाज को बढ़ावा दें जो सुगम है और सुरक्षित है. मैं अपने व्यापारी भाइयों और बहनों से आग्रह करता हूँ कि आप भी डिजिटल दुनिया से प्रवेश कर तकनीकी क्रांति का हिस्सा बनें

28. “आपने देखा होगा बैंक अधिकारियों और दुसरें को जो, काले धन की बड़ी राशी जमा कर रहे थे, वो पकड़े जा रहे है. वो समझ रहे थे कि वो दुसरे दरवाजे से भाग जायेंगें, लेकिन उन्हें क्या पता था मोदी ने पीछे के दरवाजे पर Camera लगा रखा है.”

29. “परीक्षा को ख़ुशी का एक अवसर मानना चाहिए जो हमें साल भर की मेहनत के बाद मिलता है. यह ऐसा उमंग-उत्साह का पर्व होना चाहिए जिसमें Pressure का नहीं Pleasure का स्थान हो

30. “पहले चर्चा हो रही थी कि कितना गया. अब चर्चा ये हो रही है कि कितना आया. यही तो बदलाव है



31. “पढाई और ज्ञान केवल नौकरी के उद्देश्य तक सीमित नहीं होनी चाहिए बल्कि यह लोगों में सामजिक जिम्मेदारी, राष्ट्र और मानवता की सेवा की आदत विकसित करने वाली होनी चाहिए. यह समाज और राष्ट्र में बुराइयों को समाप्त करने वाली होनी चाहिए. यह शांति के साथ-साथ देश की एकता और अखंडता के सन्देश के प्रसार का माध्यम होनी चाहिए

32. “जब पूरा देश हमारे जवानों के साथ खड़ा होता है उनकी ताकत 125 करोड़ गुना बढ़ जाती है

33. “जिसको हम छोटे काम कहते हैं, कभी-कभी हम वो सीखें! नए प्रयोग, नई Skill ऐसी है कि आपको आनन्द भी देगी और जीवन को जो एक दायरे में बांध दिया है उससे आपको बाहर निकाल देगी




34. “कश्मीर के युवाओं के सामने दो रास्ते हैंएक टूरिज़्म, दूसरा टेरेरिज्म. रक्तपात के रास्ते से किसी का भला हुआ है और कभी होगा


35. “भारत के युवा देश की समस्या का समाधान निकालना चाहते हैं. वे जल्दी परिणाम चाहते हैं. वे ऊर्जा और उत्साह से लबरेज हैं और ये ऊर्जा देश के लिए बेहतरीन परिणाम लेकर आएगा



36. “डॉ. कलाम ने भारत के युवाओं को प्रेरित किया.  आज की युवा पीढ़ी प्रगति की नई ऊँचाइयों को प्राप्त करना चाहती है और युवा जॉब क्रियेटर यानि रोजगार देने वाले बनना चाहते हैं

37. “सवा सौ करोड़ देशवासी अगर संकल्प करें, संकल्प को सिद्ध करने के लिए राह तय करें, एक-के-बाद-एक कदम उठाते चलें तो New India, सवा सौ करोड़ देशवासियों का सपना, हमारी आँखों के सामने सिद्ध हो सकता है

38. “लड़के और लड़कियां दोनों को शिक्षा के समान अवसर मिलने चाहिए. इसमें किसी भी प्रकार का भेदभाव बर्दाश्त नहीं किया जाएगा

39. हरियाणा की बेटियों ने भारत को बहुत से मौकों पर गौरवान्वित किया है. हरियाणा के हर नागरिक को बालिका बचाने का संकल्प लेना होगा



40. “जज़्बा होना सबसे जरूरी हैमुझे बहुत ख़ुशी है कि आज सवा सौ करोड़ लोगों के मन में एक उमंग, आशा और संकल्प का भाव है और लोग मुझसे अपेक्षा कर रहे हैं

41. “अब अटकाने, लटकाने और भटकाने वाला काम नहीं होता, अब फाइलों को दबाने वाली संस्कृति खत्म कर दी गयी है. सरकार अपने हर मिशन, हर संकल्प को जनता के सहयोग से पूरा कर रही है

42. “आयुष्मान भारतकी सोच सिर्फ सेवा तक सीमित नहीं है बल्कि ये जनभागीदारी का एक आव्हान भी है ताकि हम स्वस्थ, समर्थ और संतुष्ट न्यू इंडिया का निर्माण कर सकें



43. “21 वीं सदी में भारत को नई ऊँचाइयों पर ले जाने के लिए, न्यू इंडिया बनाने के लिए हम सभी को संकल्प लेना होगा. संकल्प साथ मिलकर काम करने का, संकल्प एक-दुसरे को मजबूत करने का
आतंकवाद ने विश्व की मानवता को ललकारा है.  आतंकवाद ने मानवता को चुनौती दी है. वो मानवीय शक्तियों को नष्ट करने पर तुला हुआ है और इसलिए सिर्फ भारत ही नहीं, विश्व की सभी मानवतावादी शक्तियों को एकजुट होकर आतंकवाद को पराजित करना ही होगा

44. खेल से टीम वर्क बढ़ता है. यह हममें दूसरों के योगदान को स्वीकार करने की भावना विकसित करता है. यह जरूरी है कि हम खेल को अपने देश के युवाओं के जीवन का एक अंग मानें


45. “सत्याग्रह का उद्देश्य थास्वतंत्रता और स्वछाग्रह का उद्देश्य हैस्वच्छ भारत का निर्माण



46. “अगर आप तनाव में हैं, तो सारे दरवाजे बंद हो जाते हैं, बाहर का अन्दर नहीं जाता, अन्दर का बाहर नहीं आता है. विचार प्रक्रिया में ठहराव जाता है, वो अपने आप में एक बोझ बन जाता है

47. “हम पासपोर्ट का रंग नहीं देखते खून का रिश्ता देखते हैं

48. “मेरा उद्देश्य है- एक ही पीढ़ी में भारत को विकसित देश बनाना

49. “इंसान जो एक बार योग से जुड़ता है, योग उसकी जिंदगी का एक आजीवन हिस्सा बन जाता है. योग अंतिम नहीं है, उस अंतिम की ओर जाने के मार्ग का पहला प्रवेश द्वार है.”

50. “मैंने लोक लुभावने फैसलों से दूर रहने का प्रयास किया है. हमने सरकार की पहचान से ज्यादा हिन्दुस्तान की पहचान पर बल दिया है



51. हम अपने देश में कितनी ही प्रगति करें, लेकिन हमें इसके साथ-साथ अपने देश को वैश्विक मानकों पर भी खरा उतरना पड़ेगा

Final Word

तो यह थी, हमारे India के Present Prime Minister Narendra Modi के 51 अनमोल वचन. जो युवाओं को आगे बढ़ने को प्रेरित करती है और साथ ही भारत को एक नई ऊर्जा सशक्तिकरण करण वाले देश बनाने को संकल्प दिलाती है. हम सभी भारतीय को भारत को एक पूर्ण विकसित देश बनाने में योगदान देना चाहिए. ये काम सिर्फ हमारी सरकार की ही नहीं हम भारत वाशियों की भी है.

आपको यह जानकारी अच्छी लगी तो इसे Social Media पर अवश्य Share करें

Thanks to Reading This Post


Author: Rohit Kumar

Rohit is An Indian Blogger And Web Designer. It Helps People By Sharing Very Important Content Everyday On This Website. Please Help to Make This Website Popular. Read More


Let's Get Connected: Twitter | Facebook | WhatsApp | Instagram |

2 Comments

If there is any kind of question in this post, then tell it through the comment, we will be happy to answer all your questions.

  1. Bahut achhi thoughts aapne share kiya rohit bhai .

    ReplyDelete
  2. Thanks Avinash jee,

    Keep Visit On This Site

    ReplyDelete

Post a Comment

If there is any kind of question in this post, then tell it through the comment, we will be happy to answer all your questions.

Previous Post Next Post